फटा-फट खबरें

ये हैं देश की 10 सबसे मुश्‍किल परीक्षा...

Toughest Exams in India 2024 : भारत में सरकारी परीक्षा पास करना एक चुनौती है। लेकिन यह भी सच है कि अच्छी चीजें आसानी से नहीं मिलती हैं। हजारों उम्मीदवार इन प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में सालों लगा देते हैं और कुछ सीमित सीटों के लिए प्रतिस्पर्धा करने लगते हैं। लेकिन कुछ परीक्षाएँ पास करना सबसे कठिन होता है। इन परीक्षाओं के लिए अटूट समर्पण, सालों की कड़ी मेहनत और व्यापक तैयारी की आवश्यकता होती है। यहाँ हम आपको भारत की सबसे कठिन प्रतियोगी परीक्षाओं की सूची दिखाते हैं, जिन्हें पास करना आसान नहीं है।
देश की 10 सबसे कठिन परीक्षाएँ। भारत की शीर्ष 10 सबसे कठिन परीक्षाएँ-
भारत अपनी कठिन और अत्यधिक प्रतिस्पर्धी शिक्षा प्रणाली के लिए जाना जाता है। ये परीक्षाएँ छात्रों के जीवन को आकार देने का काम करती हैं। ये परीक्षाएँ कठिन इसलिए होती हैं क्योंकि ये केवल किताबी ज्ञान का परीक्षण नहीं करती हैं, बल्कि आपका ग्रेड आपके योग्यता ज्ञान के साथ-साथ मात्रात्मक और भाषाई ज्ञान पर भी निर्भर करता है। वास्तव में, ऑनलाइन शिक्षा खोज प्लेटफ़ॉर्म के अनुसार, भारत की तीन सबसे अधिक मांग वाली प्रतियोगी परीक्षाएँ दुनिया की शीर्ष 10 सबसे कठिन परीक्षाओं में से हैं। इन परीक्षाओं में आईआईटी संयुक्त प्रवेश परीक्षा (IIT JEE), इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट (GATE) और संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) परीक्षा शामिल हैं। आइए जानते हैं देश की अन्य सबसे कठिन प्रतियोगी परीक्षाएं कौन सी हैं।
देखें रैंकिंग में कौन सी परीक्षा सबसे कठिन है। भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं की रैंकिंग इस प्रकार है-
1. यूपीएससी आईएएस (UPSC IAS)
2. जेईई एडवांस
3. गेट: इंजीनियरिंग स्नातकों के लिए एप्टीट्यूड टेस्ट
4. आईआईएम कैट (IIM CAT)
5. गोपनीयता समझौता
6. सीएलएटी (प्रथागत विधि प्रवेश परीक्षा)
7. सीए परीक्षा (CA Exam)
8. सीजीयू नेटवर्क
9. नीट
10. राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान में प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam in National Institute of Design)
और भी

NEET PG 2024 परीक्षा के लिए शहरों की लिस्ट जारी

NEET PG 2024 : नेशनल बोर्ड फॉर एग्जामिनेशन इन मेडिकल साइंसेज (NBEMS) ने NEET PG परीक्षा के लिए शहरों की सूची जारी कर दी है। NEET PG परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थी NBEMS की आधिकारिक वेबसाइट natboard.edu.in पर जाकर यह सूची देख सकते हैं। NEET PG परीक्षा देशभर के 185 शहरों में आयोजित की जाएगी। पहले जारी किए गए एडमिट कार्ड पर दर्ज शहर और परीक्षा केंद्र अब मान्य नहीं होंगे। ऐसे में अभ्यर्थियों को अब NBEMS की वेबसाइट पर जाकर दोबारा अपनी पसंद के शहरों का चयन करना होगा। इसके लिए 19 जुलाई से 22 जुलाई 2024 तक का समय दिया गया है। अभ्यर्थी 185 शहरों में से अपनी पसंद के 4 शहर चुन सकते हैं और बोर्ड इन 4 चयनित शहरों में से कोई भी शहर अभ्यर्थी को आवंटित कर सकता है। चयनित 4 परीक्षा शहरों में से किसी एक का आवंटन पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर होगा। अगर किसी शहर में अभ्यर्थियों की निर्धारित संख्या पूरी हो जाती है तो केंद्र दूसरे शहर में आवंटित कर दिया जाएगा। नीट पीजी परीक्षा 11 अगस्त 2024 को दो शिफ्ट में आयोजित की जाएगी। इससे पहले नीट पीजी परीक्षा 23 जून 2024 को होनी थी, लेकिन इसे स्थगित कर दिया गया था। इस परीक्षा में 2 लाख 38 हजार छात्र भाग लेंगे। हालांकि, उम्मीदवार शिफ्ट (सुबह या दोपहर) का चयन नहीं कर पाएंगे, जिसमें उन्हें परीक्षा देने की अनुमति होगी। दोनों शिफ्ट के परीक्षा कार्यक्रम की जानकारी नियत समय पर दी जाएगी।
परीक्षा शहर आवंटन सूची 29 जुलाई 2024 को उम्मीदवारों के साथ उनके पंजीकृत ईमेल आईडी (registered email ID) पर ईमेल के माध्यम से साझा की जाएगी। आवंटित शहर में किस केंद्र पर परीक्षा आयोजित की जाएगी, इसकी जानकारी एडमिट कार्ड के माध्यम से दी जाएगी। एडमिट कार्ड 8 अगस्त 2024 को वेबसाइट पर प्रकाशित किया जाएगा।
बता दें कि यह मास्टर ऑफ सर्जरी, डॉक्टर ऑफ मेडिसिन और पीजी डिप्लोमा कार्यक्रमों के लिए किया जाता है। केवल वे उम्मीदवार ही इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं जिनके पास एमबीबीएस की डिग्री या मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा मान्यता प्राप्त प्रोविजनल एमबीबीएस पासिंग सर्टिफिकेट है। पेपर 2 घंटे पहले रखे जाएंगे।
एनबीईएमएस ने नीट पीजी परीक्षा को पूरी पारदर्शिता और सुरक्षा के साथ आयोजित करने के लिए कड़े कदम उठाए हैं। नीट पीजी परीक्षा से ठीक दो घंटे पहले प्रश्नपत्र तैयार किया जाएगा। इस बार गृह मंत्रालय भी नीट पीजी की निगरानी करेगा। पेपर लीक होने की कोई संभावना नहीं रहेगी। यह भी बताया गया है कि परीक्षा की सुबह ही प्रश्नपत्र डिजिटल (सुरक्षित) तरीके से तैयार किए जाएंगे। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय, राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान बोर्ड, तकनीकी साझेदार टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और साइबर सेल के अधिकारियों ने हिस्सा लिया।
नीट पीजी परीक्षा कंप्यूटर मोड में ऑनलाइन आयोजित की जाएगी। यह परीक्षा 3 घंटे 30 मिनट तक चलेगी। नीट पीजी परीक्षा के 3 सेक्शन होंगे। परीक्षा में 800 अंकों के कुल 200 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे। उम्मीदवारों को प्रत्येक सही उत्तर के लिए 4 अंक मिलेंगे और प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1 अंक काटा जाएगा।
और भी

विश्वविद्यालय मे पास होने को अब 33 की बजाय 40 अंक जरूरी

PRSU : प्रो. राजेंद्र सिंह राज्य विश्वविद्यालय (रज्जू भैया) एवं संबद्ध विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत या अध्ययनरत विद्यार्थियों को अब उत्तीर्ण होने के लिए 33 के स्थान पर 40 अंक लाना अनिवार्य होगा। इस वर्ष से राज्य के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में चार वर्षीय विश्वविद्यालय एवं एक वर्षीय स्नातकोत्तर की पढ़ाई शुरू होगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी-2020) के दायरे में यह महत्वपूर्ण बदलाव किया गया है। इस बड़े बदलाव का सीधा असर विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के 5.25 लाख विद्यार्थियों पर पड़ेगा। कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार ने बताया कि एनईपी के तहत सभी पाठ्यक्रमों में सेमेस्टर प्रणाली लागू की गई है। इसलिए विद्यार्थी को एक सेमेस्टर में 4 सेमेस्टर ग्रेड औसत (एसजीपीए) प्राप्त करना अनिवार्य होगा। 4 एसजीपीए 40 अंक के बराबर होगा। इससे कम एसजीपीए वाले विद्यार्थियों को दूसरे सेमेस्टर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। यह प्रक्रिया सभी सेमेस्टर में लागू होगी। इसे अंतिम सेमेस्टर में सीजीपीए में बदल दिया जाएगा। 90 से 100 अंक वालों को ओ ग्रेड मिलेगा।
राज्य विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के लागू होने के बाद 90 से 100 फीसदी अंक वाले छात्रों को ओ ग्रेड और 40 फीसदी से कम अंक वाले छात्रों को एफ ग्रेड यानी फेल ग्रेड मिलेगा। जिसका उल्लेख ग्रेड शीट पर किया जाएगा। ग्रेड पी 40 से 50 अंक, ग्रेड सी 50 से 60 अंक, ग्रेड बी 60 से 70 अंक, ग्रेड बी प्लस 70 से 80 अंक और ग्रेड ए 80 से 90 अंक के बीच दिया जाएगा। लिखित परीक्षा में 75 अंक होंगे। तीन अति लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएं, प्रत्येक प्रश्न तीन अंक का होगा। लघु उत्तरीय प्रश्नों के लिए नौ अंक होंगे। जबकि दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों के लिए 15 अंक होंगे। इस प्रकार लिखित परीक्षा में 75 अंक होंगे। आंतरिक सतत मूल्यांकन के लिए 25 अंक दिए जाएंगे। विधि और बी.एड. के लिए मूल्यांकन प्रक्रिया समान रहेगी।
और भी

छत्तीसगढ़ राज्य पात्रता परीक्षा (CG SET) हेतु बनाए गए जगदलपुर में 42 केन्द्रों

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य पात्रता परीक्षा (सीजीसेट) परीक्षा 21 जुलाई 2024 को सुबह 10 बजे से 11.15 बजे तक प्रथम पाली तथा दोपहर 2 बजे से शाम 4.15 बजे तक द्वितीय पाली में परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।
जिले में 42 केन्द्रों पर परीक्षा आयोजित होगी। जिसके तहत परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1701 शासकीय काकतीय पीजी कॉलेज धरमपुरा नम्बर 02, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1702 शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय धरमपुरा नम्बर 03, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1703 शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई कन्या हायर सेकण्डरी स्कूल क्रमांक-1, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1704 शासकीय बहुउद्शीय हायर सेकेण्डरी स्कूल, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1705 शासकीय दन्तेश्वरी पीजी महिला महाविद्यालय शांति नगर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1706 शासकीय कन्या हायर सेकेण्डरी स्कूल क्रमांक-2 राजेन्द्र नगर वार्ड गीदम रोड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1707 स्वामी आत्मानंद एक्सीलेंट इंग्लिश मीडियम शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल धरमपुरा स्पोर्टस् काम्पलेक्स केम्पस धरमपुरा, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1708 स्वामी विवेकानंद एक्सीलेंट इंगलिश मीडियम स्कूल अग्रसेन चैक संजय मार्केंट रोड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1709 स्वामी आत्मानंद एक्सीलेंट हिन्दी मीडियम शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल रेलवे काॅलोनी, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1710 स्वामी धरमु माहरा शासकीय महिला पाॅलिटेक्निक धरमपुरा-2, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1711 शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल भवन भगत सिंह सिविल लाईन पथरागुड़ा नियर लालबाग, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1712 निर्मल हायर सेकेण्डरी स्कूल लालबाग, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1713 बाल विहार हायर सेकेण्डरी स्कूल बालाजी वार्ड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1714 श्री वेदमाता गायत्री शिक्षा महाविद्यालय कंगोली सरस्वती शिशु मंदिर परिसर कंगोली, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1715 विद्या ज्योति हायर सेकेण्डरी स्कूल दन्तेश्वरी वार्ड गीदम रोड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1716 हम एकेडमी मेन रोड कालीपुर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1717 सक्सेस काॅन्वेट हायर सेकेण्डरी स्कूल दीनदयालय उपाध्याय वार्ड-19, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1718 दीप्ति काॅन्वेंट हायर सेकेण्डरी स्कूल अघनपुर धरमपुरा,  परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1719 सूर्या काॅलेज गीदम रोड परपा, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1720 श्री विद्यापती एकेडमी बहादुरगुड़ा, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1721 डीपीएस हायर सेकेण्डरी स्कूल कालीपुर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1722 शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल आसना, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1723 स्वामी आत्मानंद शासकीय एक्सीलेंट स्कूल करंजी, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1724 प्रयास आवासीय विद्यालय धुरगुड़ा जिला बस्तर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1725 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल पोटानार, 1726 क्राईस्ट काॅलेज जगदलपुर राजेन्द्र नगर गीदम रोड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1727 शहीद गुण्डाधूर काॅलेज कृषि एवं अनुसंधान केंद्र कुम्हरावण्ड जगदलपुर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1728 आदेश्वर पब्लिक स्कूल खम्हारगांव जगदलपुर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1729 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल घाटलोहंगा बस्तर रोड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1730 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल बोरपदर ब्लाॅक बकावण्ड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1731 शासकीय कन्या शिक्षा परिसर परचनपाल, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1732 शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बस्तर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1733 सेंट जेवियर हाई स्कूल चांदनी चैक जगदलपुर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1734 शासकीय बालक हायर सेकण्डरी स्कूल बस्तर नगर पंचायत बस्तर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1735 शासकीय कन्या हायर सेकण्डरी स्कूल बस्तर नगर पंचायत बस्तर, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1736 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल तोकापाल, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1737 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल ढोडरेपाल ब्लाॅक बकावण्ड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1738 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल सरगीपाल ब्लाॅक बकावण्ड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1739 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल बालक बकाण्वड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1740 शासकीय कन्या हायर सेकण्डरी स्कूल बकावण्ड, परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1741 शासकीय हायर सेकण्डरी स्कूल मूली ब्लाॅक बकावण्ड और परीक्षा केन्द्र क्रमांक 1742 क्रांतिकारी डेबरीधूर  कॉलेज  उद्यानिकी एवं अनुसंधान केंद्र धरमपुरा-02 कालीपुर रोड जगदलपुर में आयोजित किया जाएगा। नोडल अधिकारी व्यावसायिक परीक्षा एवं संयुक्त कलेक्टर सुनील कुमार शर्मा मोबाइल नंबर +91-70007-19991, डिप्टी कलेक्टर एवं सहायक नोडल अधिकारी श्री मायानंद चन्द्रा मोबाइल नंबर +91-99267-59295 एवं समन्वयक प्राचार्य शासकीय काकतीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय धरमपुरा-02 डाॅ. के. इंदिरा द्वारा अवगत कराया गया है कि उक्त परीक्षा हेतु अभ्यर्थियों को वर्तमान वर्ष का प्रवेश पत्र लेकर आना अनिवार्य है।
और भी

यूजीसी NET की परीक्षा 25 से 27 जुलाई तक

UGC NET 2024 : नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने UGC NET परीक्षा के लिए एग्जाम सिटी वाउचर जारी कर दिया है। अगर आप भी परीक्षा के लिए अपना शहर चेक करना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट csirnet.nta.ac.in पर जाना होगा। परीक्षा के शहर की रसीद चेक करने के लिए आपको अपना एप्लीकेशन नंबर और जन्मतिथि डालनी होगी।
UGC NET परीक्षा 21 जून को होनी थी, लेकिन NTA ने इसे टाल दिया। उम्मीदवार लंबे समय से CSIR-UGC NET संयुक्त परीक्षा, 2024 का इंतजार कर रहे थे। अब यह परीक्षा 25 से 27 जुलाई 2024 तक आयोजित की जाएगी। 25 जुलाई को सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक पृथ्वी, वायुमंडलीय, महासागरीय, ग्रह और भौतिक विज्ञान की परीक्षा होगी। इसके बाद दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक गणितीय विज्ञान की परीक्षा ली जाएगी। लाइफ साइंसेज की परीक्षा 26 जुलाई को दो शिफ्ट में होगी। पहली शिफ्ट सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक होगी। वहीं दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक होगी। केमिकल साइंसेज की परीक्षा 27 जुलाई को सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक होगी। आपको बता दें कि परीक्षा शहर की रसीद कोई एडमिट कार्ड नहीं है। यह आपको केवल आपके परीक्षा शहर के बारे में जानकारी प्रदान करती है। परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जल्द ही जारी किए जाएंगे। अगर किसी उम्मीदवार को परीक्षा शहर की रसीद को सत्यापित करने में कठिनाई होती है, तो वह NTA द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 011-40759000/011-6922770 या ईमेल आईडी csirnet@nta.ac.in पर संपर्क कर सकता है।
CSIR UGC NET परीक्षा सिटी स्लिप कैसे डाउनलोड करें-
1. सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट csirnet.nta.ac.in पर जाना होगा। 2. इसके बाद आपको “CSIR UGC NET संयुक्त परीक्षा सिटी शीट 2024” लिंक पर क्लिक करना होगा।
3. अब आपको लॉग इन करने के लिए अपना आवेदन नंबर और जन्म तिथि दर्ज करनी होगी।
4. इसके बाद आपको सेंड पर क्लिक करना होगा।
5. अब आपके परीक्षा शहर की रसीद आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी।
6. अब आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं।
और भी

हाईस्कूल एवं हायर सेकण्डरी द्वितीय मुख्य परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल की हाईस्कूल एवं हायर सेकण्डरी द्वितीय मुख्य/अवसर परीक्षा 2024 के प्रवेश पत्र मंडल की वेबसाइट www.cgbse.nic.in एवं संबंधित संस्था के पोर्टल में अपलोड कर दिया गया है।
मंडल द्वारा जारी पत्र में निर्देशित किया गया है कि संबंधित संस्था अपने संस्था से अग्रेषित परीक्षार्थियों के प्रवेश-पत्र पोर्टल से डाउनलोड कर परीक्षा में सम्मिलित होने वाले विषयों को अनिवार्य रूप से मिलान कर ले। यदि किसी प्रकार की त्रुटि हो, तो इसकी सूचना तत्काल मण्डल कार्यालय को देने का निर्देश दिया गया है।
मंडल के उप सचिव द्वारा बताया गया कि हाईस्कूल एवं हायर सेकण्डरी द्वितीय मुख्य /अवसर परीक्षा 2024 के मूल प्रवेश पत्र 20 जुलाई 2024 को जिले के समन्वय संस्था से वितरित किया जायेगा। वितरण दिनांक को समन्वय संस्था में उपस्थित होकर प्रवेश पत्र प्राप्त करने के निर्देश दिए गए है।
और भी

UPSC EPFO ​​result : अंतिम परिणाम घोषित, आधिकारिक वेबसाइट

यूपीएससी ईपीएफओ रिजल्ट : संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने श्रम और रोजगार मंत्रालय के तहत कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) में भविष्य निधि के उपायुक्त पद के लिए भर्ती परीक्षा के अंतिम परिणाम घोषित कर दिए हैं। परीक्षा देने वाले उम्मीदवार यूपीएससी ईपीएफओ परिणाम आयोग की वेबसाइट upsc.gov.in पर देख सकते हैं। आयोग के अनुसार, अंतिम परिणाम 2 जुलाई 2023 को आयोजित भर्ती परीक्षा और 3 से 14 जून तक आयोजित साक्षात्कार के आधार पर निर्धारित किया गया था। यूपीएससी ने कहा कि 159 लोगों को भविष्य निधि के उपायुक्त के रूप में रोजगार के लिए नामित किया गया है। दो लोगों को तीन महीने के प्रशिक्षण के लिए, आठ को छह महीने के लिए, दो को नौ महीने के लिए और सात लोगों को पूरे एक साल के प्रशिक्षण के लिए सुझाव दिया गया है। उनके रोस्टर नंबर परिणाम सूचना में शामिल हैं। आयोग ने आगे कहा कि भर्ती प्रक्रिया पूरी होने के बाद या बाद में, परिणाम की घोषणा के 30 दिनों के भीतर, साक्षात्कार वाले आवेदकों की योग्यता, कट-ऑफ अंक आदि साइट आयोग की वेबसाइट पर प्रकाशित किए जाएंगे।
यूपीएससी ईपीएफओ अंतिम परिणाम : उन्हें कैसे जांचें-
चरण 1: यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर जाएं।
चरण 2: वेबसाइट पर, उम्मीदवारों को "अंतिम परिणाम: ईपीएफओ में भविष्य निधि के डिप्टी कमिश्नर के 159 पद" शीर्षक वाले लिंक पर क्लिक करना होगा। चरण 3: आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज दिखाई देगा।
चरण 4: “परिणाम” लिंक चुनें।
चरण 5: परिणामी पीडीएफ स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।
चरण 6: अपने परिणाम जांचें, भविष्य के संदर्भ के लिए उन्हें डाउनलोड करें और प्रिंट करें।
और भी

CLAT 2025 के लिए शुरू हुए रजिस्ट्रेशन

  • वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर 15 जुलाई से 15 अक्टूबर 2024 तक
CLAT 2025 : कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (CNLU) ने कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) 2025 के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिए हैं। रजिस्ट्रेशन के लिए उम्मीदवार को आधिकारिक वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर जाना होगा। CLAT 2025 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आज 15 जुलाई से 15 अक्टूबर 2024 तक चलेगी। आइए आपको बताते हैं कि CLAT 2025 के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार का रजिस्ट्रेशन, परीक्षा पैटर्न और योग्यता क्या होनी चाहिए?
CLAT 2025 के जरिए 22 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज और उनसे संबद्ध कॉलेजों में उम्मीदवारों का एडमिशन होगा। CLAT 2025 परीक्षा 1 दिसंबर 2024 को दोपहर 2:00 बजे से शाम 4:40 बजे तक आयोजित की जाएगी, जिसमें PCD कैटेगरी के छात्रों के लिए परीक्षा का समय दोपहर 2:00 बजे से शाम 4:40 बजे तक होगा।
CLAT 2025 के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें-
1. सबसे पहले उम्मीदवार को आधिकारिक वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर जाना होगा।
2. इसके बाद आपको होम पेज पर मौजूद CLAT 2025 रजिस्ट्रेशन लिंक पर क्लिक करना होगा।
3. इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा।
4. रजिस्ट्रेशन (registration) के बाद आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा।
5. रजिस्ट्रेशन के बाद आपको फिर से लॉग इन करना होगा।
6. लॉग इन करने के बाद छात्र को आवेदन फॉर्म पूरा करना होगा।
7. आवेदन फॉर्म पूरा करने के बाद आपको आवेदन शुल्क जमा करना होगा।
8. इसके बाद आपको सबमिट (submitting) करने के बाद पेज को डाउनलोड करना होगा।
9. भविष्य के संदर्भ के लिए अपना आवेदन फॉर्म प्रिंट कर लें।
CLAT 2025 के लिए उम्मीदवार की पात्रता-
1. CLAT 2025 यूजी (पांच वर्षीय एकीकृत लॉ डिग्री) कार्यक्रम के लिए उम्मीदवार को (10+2) या इसके समकक्ष परीक्षा में कम से कम 45 प्रतिशत अंक प्राप्त करने होंगे। एससी और एसटी वर्ग के छात्रों के लिए न्यूनतम अंक 40 प्रतिशत है। उम्मीदवार के लिए कोई आयु सीमा नहीं है।
CLAT 2025 पीजी (एक वर्षीय एलएलएम डिग्री) कार्यक्रम के लिए, उम्मीदवार को कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से एलएलबी डिग्री या समकक्ष डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए। एससी और एसटी वर्ग के लिए न्यूनतम अंक 45 प्रतिशत है। उम्मीदवार के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है।
CLAT परीक्षा पैटर्न 2025-
1. CLAT UG परीक्षा के लिए उम्मीदवारों के पास 2 घंटे का समय होगा। परीक्षा में आपसे 120 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे, जिसमें प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा। गलत उत्तरों के लिए 0.25 अंक कम किए जाएंगे। यूजी परीक्षा में अंग्रेजी भाषा, करंट अफेयर्स, सामान्य ज्ञान, तार्किक तर्क, कानूनी तर्क, मात्रात्मक तकनीकों के बारे में प्रश्न पूछे जाएंगे।
2. CLAT PG परीक्षा में संवैधानिक कानून और कानून के अन्य क्षेत्रों जैसे पारिवारिक कानून, कंपनी कानून, संपत्ति कानून, आपराधिक कानून आदि से प्रश्न पूछे जाएंगे। परीक्षा के लिए उम्मीदवारों के पास 2 घंटे का समय होगा। परीक्षा में आपसे 120 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे, जिसमें प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा। गलत उत्तरों के लिए 0.25 अंक कम कर दिए जाएंगे।
CLAT 2025 आवेदन पत्र भरने के लिए सामान्य श्रेणी के छात्रों को 4,000 रुपये का शुल्क देना होगा, जबकि एससी, एसटी और पीडब्ल्यूडी छात्रों को 3,500 रुपये का शुल्क देना होगा।
 
और भी

CUET UG के 1000 से अधिक अभ्यर्थियों के लिए 19 जुलाई को दोबारा परीक्षा

CUET UG : नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने 19 जुलाई को 1000 से अधिक सीयूईटी-यूजी उम्मीदवारों के लिए फिर से परीक्षा आयोजित करने का फैसला किया है। उम्मीदवारों द्वारा चुनी गई भाषा के अलावा किसी अन्य भाषा में प्रश्नावली का वितरण फिर से परीक्षा के कारणों में से एक है। और लगभग 1,000 उम्मीदवार छह राज्यों में फैले हुए हैं। एनटीए के सूत्रों के अनुसार, "कुछ शिकायतों में प्रश्नपत्रों के अनुचित वितरण के कारण समय की बर्बादी शामिल है।" एनटीए ने 7 जुलाई को कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET)-यूजी 2024 की अनंतिम उत्तर कुंजी प्रकाशित की थी और घोषणा की थी कि यदि परीक्षा के संचालन के संबंध में छात्रों द्वारा उठाई गई कोई भी शिकायत सही पाई जाती है, तो यह 15 से 19 जुलाई के बीच होगी। आप फिर से परीक्षा देंगे। एजेंसी ने रविवार को पुनर्परीक्षा के लिए अधिसूचना जारी की, लेकिन परिणाम की घोषणा पर चुप रही, जो पहले ही दो सप्ताह से अधिक देरी से जारी हो चुका है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "उम्मीदवारों द्वारा उठाई गई चुनौतियों का विषय विशेषज्ञों के एक पैनल द्वारा सत्यापन किया जाएगा।" परिणाम अंतिम संशोधित उत्तर कुंजी के आधार पर घोषित किया जाएगा। CUET परीक्षा के लिए 13.4 लाख उम्मीदवार उपस्थित हुए और 261 केंद्रों पर परीक्षा दी।
आपको बता दें कि इस साल 2024 में करीब 15 लाख छात्र CUET-UG परीक्षा में शामिल हुए हैं। NTA ने CUET-UG परीक्षा 15 मई, 16 मई, 17 मई, 18 मई, 21 मई, 22 मई, 22 मई, 24 मई और 29 मई को देश के विभिन्न केंद्रों पर आयोजित की थी। CUET-UG परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी द्वारा भारत के 379 शहरों और भारत के बाहर 26 शहरों में ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से आयोजित की गई थी।
और भी

GATE 2025: जारी हुई परीक्षा की तारीखें दो शिफ्ट होगा एग्जाम

GATE 2025 Exam Dates : भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT रुड़की) में फरवरी में ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (GATE 2025) आयोजित किया जाएगा। GATE परीक्षा 2025 की तिथि घोषित कर दी गई है। तय कार्यक्रम के अनुसार, GATE परीक्षा 1, 2, 15 और 16 फरवरी 2025 को आयोजित की जाएगी। परीक्षा प्रत्येक दिन दो सत्रों में आयोजित की जाएगी। पहली शिफ्ट सुबह 9:30 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक और दूसरी शिफ्ट दोपहर 2:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक चलेगी।
GATE परीक्षा के लिए शैक्षणिक योग्यता-
GATE परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग, तकनीकी, विज्ञान, वास्तुकला या मानविकी में स्नातक की डिग्री पूरी करनी होगी। इसके साथ ही, जो उम्मीदवार इंजीनियरिंग, तकनीकी, विज्ञान, वास्तुकला या मानविकी में अपनी यूजी डिग्री के अंतिम वर्ष/सेमेस्टर में हैं, वे भी परीक्षा में बैठने के पात्र हैं और फॉर्म भर सकते हैं।
आपको बता दें कि GATE 2025 एक कंप्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) होगी। जिन शहरों में GATE आयोजित की जाएगी, उनकी सूची भी घोषित कर दी गई है। इन शहरों को आठ जोन में बांटा गया है।
GATE 2025 में 30 परीक्षाएं होंगी। परीक्षा की अवधि 3 घंटे की होगी। GATE सर्टिफिकेट रिजल्ट घोषित होने की तारीख से तीन साल के लिए वैध होगा। इसके साथ ही आपको बता दें कि रजिस्ट्रेशन की तारीख और समय की जानकारी अभी नहीं दी गई है। हालांकि, आवेदन प्रक्रिया अगस्त में शुरू होने वाली है।
परीक्षा में निगेटिव ग्रेड मिलेगा।
FAQ में गलत उत्तर चुनने पर निगेटिव रेटिंग मिलेगी। 1 अंक वाले FAQ में गलत उत्तर पर 1/3 अंक काटा जाएगा। 2 अंक वाले FAQ में गलत उत्तर पर 2/3 अंक काटा जाएगा।
और भी

डीयू में एक साथ दो डिग्री प्राप्त करने के प्रावधान

New education policy : डीयू अकादमिक काउंसिल की बैठक के दौरान एक साथ दो डिग्री प्राप्त करने के प्रावधान के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। इसके तहत एक डिग्री विश्वविद्यालय के कॉलेजों या विभागों में नियमित मोड में और दूसरी डिग्री दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग में दूरस्थ शिक्षा मोड में की जा सकेगी। दोनों कार्यक्रमों को एक साथ लेने के तौर-तरीकों में विभिन्न नियम और शर्तें शामिल होंगी जो इस निर्णय को प्रभावी बनाने के लिए आवश्यक हैं। कहा गया कि यह प्रावधान नई शैक्षिक नीति में शामिल किया जाएगा। डीयू वर्तमान में इसे सीमित आधार पर लागू कर रहा है, लेकिन फीडबैक मिलने के बाद धीरे-धीरे इसका विस्तार करेगा। संस्कृत विश्वविद्यालयों की डिग्रियां केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, श्री लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय आदि द्वारा संस्कृत विभाग, दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा अनुसंधान और रोजगार के उद्देश्यों के लिए पेश किए गए किसी भी क्षेत्र या विशेषज्ञता में प्रदान की गई डिग्रियों के बराबर होंगी। बैठक के दौरान डिग्रियों को समकक्ष मानने पर भी चर्चा की गई। इसके माध्यम से, शास्त्री ने बी.ए. प्राप्त किया। माननीय शास्त्री ने बी.ए. (सम्मान के साथ स्नातक या चौथे वर्ष), आचार्य ने मास्टर डिग्री प्राप्त की।
शिक्षा शास्त्री के पास शिक्षा में स्नातक की डिग्री, शिक्षा आचार्य के पास शिक्षा में परास्नातक की डिग्री, विद्या वारिधि के पास डॉक्टरेट की डिग्री और वाचस्पति के पास साहित्य में डॉक्टरेट की डिग्री है। समकक्ष मूल्य रु. 10,000/- है। संस्कृत विश्वविद्यालयों द्वारा इन शोध कार्यों में प्रदान की गई आचार्य की डिग्री दिल्ली विश्वविद्यालय के संस्कृत में परास्नातक कार्यक्रम के समकक्ष मानी जाएगी। इसी प्रकार, संस्कृत विश्वविद्यालयों द्वारा दी जाने वाली ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में आचार्य की डिग्री दिल्ली विश्वविद्यालय से ज्योतिष में परास्नातक की डिग्री के समकक्ष मानी जाएगी।
विद्या परिषद की बैठक में कुलपति प्रो. ने दिल्ली सरकार द्वारा वित्तपोषित 12 विश्वविद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया पर चर्चा की। योगेश सिंह सभी विश्वविद्यालयों से 31 जुलाई 2024 तक रिक्तियों के लिए नियुक्ति अधिसूचना प्रकाशित करने को कहेंगे।
अंबेडकर पीठ की स्थापना की जाएगी-
कुलपति ने कहा कि अंबेडकर पीठ की स्थापना के लिए यूजीसी को प्रस्ताव भेजा गया है। वहां से अनुमति मिलते ही डॉ. बीआर अंबेडकर की पीठ की स्थापना की जाएगी। अंबेडकर पीठ के तहत अंबेडकर पर शोध और जानकारी संभव हो सकेगी। प्रो. योगेश सिंह ने बताया कि पहली बार डीयू में यूजी स्तर पर रूसी कार्यक्रम को शामिल किया गया है।
और भी

नये शिक्षा सत्र से कृषि विश्वविद्यालय में लागू होगी राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020

  • विश्वविद्यालय की विद्या परिषद ने किया अनुमोदन
रायपुर। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में जुलाई-अगस्त से प्रारंभ नये शैक्षणिक सत्र मंे नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के विभिन्न प्रावधानों को लागू किया जाएगा। इन प्रावधानों के तहत स्नातक पाठ्यक्रमों में चार वर्ष की पढ़ाई पूर्ण न कर पाने वाले विद्यार्थियों को बीच मंे पढ़ाई छोड़ने पर सर्टिफिकेट तथा डिप्लोमा प्रदान किया जाएगा। अब सैद्धान्तिक पढ़ाई की बजाय प्रायोगिक पढ़ाई पर अधिक ध्यान दिया जाएगा और इसे रोजगारमूलक बनाया जाएगा। विद्यार्थी ऑनलाईन प्लेटफॉम के माध्यम से भी पढ़ाई कर सकेंगे। पढ़ाई की गुणवत्ता में वृद्धि के लिए नियमित अध्यापकों के अलावा विजिटिंग प्रोफेसर, प्रोफेसर ऑफ प्रैक्टिस तथा एडजंट फैकल्टी की नियुक्ति भी की जाएगी। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल की अध्यक्षता में आयोजित विद्या परिषद की बैठक में इस आशय के निर्णय लिये गये।
गौरतलब है कि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर की विद्या परिषद की बैठक 09 जुलाई 2024 को आयोजित की गई, जिसमें स्नातक स्तर पर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को इसी शैक्षणिक सत्र (2024-25) से लागू किये जाने के प्रस्ताव को पारित किया गया। स्नातक स्तर के पाठ्यक्रम जिसमें बी.एस.सी. (आनर्स) कृषि, बी.टेक. कृषि अभियांत्रिकी एवं बी.टेक. खाद्य प्रौद्योगिकी में इसे लागू किया जावेगा। इस नीति के लागू होने के उपरान्त स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेशित विद्यार्थी प्रथम वर्ष एवं द्वितीय वर्ष में यदि पाठ्यक्रम स्तर की पढ़ाई छोड़ना चाहे तो उन्हें इसकी अनुमति होगी और इसके साथ उन्हें 10 सप्ताह का इंटर्नशिप कोर्स करने के साथ प्रथम वर्ष के उपरान्त प्रमाण पत्र (सर्टिफिकेट) प्रदान किया जायेगा। यदि वह द्वितीय वर्ष के बाद पाठ्यक्रम की पढ़ाई से बाहर होता है तो इसी अवधि की इंटर्नशिप करने पर डिप्लोमा प्रदान किया जायेगा। ऐसे विद्यार्थी सर्टिफिकेट/डिप्लोमा प्राप्त कर स्व-रोजगार या रोजगार कर सकते हैं। अगर उन्हें स्व-रोजगार या रोजगार में कुछ दिन कार्य करने के उपरान्त असंतुष्टि मिलती है और वह आगे की पढ़ाई जारी करना चाहते हैं तो वे पुनः अपने स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकते हैं, परन्तु यह अवधि उनके प्रवेश लेने के एवं स्नातक उपाधि पूर्ण करने के सात वर्ष से अधिक नहीं होगी।
और भी

ICAI CA Result 2024 : परीक्षा के नतीजे घोषित

  • परिणाम संगठन की आधिकारिक वेबसाइट
आईसीएआई सीए रिजल्ट 2024 : इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया ने आज, 11 जुलाई को आईसीएआई सीए चार्टर्ड अकाउंटेंट्स फाइनल और इंटरमीडिएट परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए हैं। जिन लोगों ने परीक्षा दी थी वे अपना परिणाम संगठन की आधिकारिक वेबसाइट icai.org पर देख सकते हैं। आईसीएआई सीए इंटर और अंतिम परिणाम 2024 लाइव अपडेट उम्मीदवारों को अपना परिणाम देखने के लिए अपना पंजीकरण नंबर और रोल नंबर प्रदान करना होगा। आईसीएआई के अनुसार, परिणाम के दिन एक सहज अनुभव सुनिश्चित करने के लिए, छात्रों को अपने लॉगिन क्रेडेंशियल अपने पास रखना चाहिए। इस साल, आईसीएआई सीए इंटर ग्रुप 1 परीक्षा 3, 5 और 9 मई 2024 को आयोजित की गई थी, जबकि ग्रुप 2 परीक्षा 11, 15 और 17 मई 2024 को आयोजित की गई थी। ग्रुप 1 के लिए सीए परीक्षण मई को पूरा हुआ था 2. 4, 8, और समूह 2 के परीक्षण 10, 14 और 16 मई, 2024 को किए गए। 14 और 16 मई, 2024 को अंतर्राष्ट्रीय कर निर्धारण परीक्षण किया गया।
आईसीएआई सीए परिणाम 2024: इसे कैसे जांचें-
STEP 1. संगठन की आधिकारिक वेबसाइट icai.org पर जाएं।
STEP 2. होम पेज पर दिखाई देने वाले “आईसीएआई सीए रिजल्ट 2024” नाम के लिंक का चयन करें।
STEP 3. अपनी लॉगिन जानकारी दर्ज करने के बाद, "सबमिट करें" पर क्लिक करें।
STEP 4. आईसीएआई सीए परिणाम स्क्रीन पर दिखाई देगा।
STEP 5. परिणाम की सावधानीपूर्वक जांच करें और दस्तावेज़ को सहेजें।
STEP 6. बाद में उपयोग के लिए, इसकी एक भौतिक प्रति अपने पास रखें।
आईसीएआई सीए परिणाम 2024: उत्तीर्ण अंक-
सीए इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल छह परीक्षाएं होती हैं, जिनमें से प्रत्येक 100 अंकों की होती है। वस्तुनिष्ठ शैली के प्रश्न प्रत्येक परीक्षा में शामिल किए जाएंगे और अंतिम ग्रेड के 30 प्रतिशत होंगे। सत्तर प्रतिशत कार्य को वर्तमान प्रारूप का उपयोग करके वर्गीकृत किया जाएगा। पात्र होने के लिए, उम्मीदवारों को एक ही सत्र में पूरे किए गए प्रत्येक असाइनमेंट में न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक और प्रत्येक समूह में पूरे किए गए सभी असाइनमेंट में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक के साथ दोनों समूहों को एक साथ पास करना होगा।
और भी

भखारा में 20 जुलाई को होंगे शिक्षक पात्रता परीक्षा

धमतरी। व्यावसायिक परीक्षा मंडल रायपुर की ओर से बीते 23 जून को महर्षि वेदव्यास शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय भखारा, धमतरी में शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित की गई थी. इसमें द्वितीय पाली में उत्तर पुस्तिका विलंब से वितरित किए जाने के कारण परीक्षार्थियों के हित में व्यापम द्वारा फिर से परीक्षा के लिए विकल्प देने का निर्णय लिया गया है. इसके तहत आगामी 20 जुलाई को महर्षि वेदव्यास शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय भखारा में उपस्थित 288 परीक्षार्थियों के लिए दोपहर 2 बजे से शाम 4.45 बजे तक परीक्षा आयोजित की जा रही है. इस परीक्षा में शामिल होने के लिए परीक्षार्थियों के लॉगिन में प्रवेश पत्र 15 जुलाई से उपलब्ध होंगे.
प्राप्त जानकारी के अनुसार ऐसे परीक्षार्थी, जो 20 जुलाई को आयोजित परीक्षा में शामिल होंगे, उनकी पूर्व की उत्तर पुस्तिका (ओ.एम.आर.) को निरस्त माना जाएगा और उनका परिणाम 20 जुलाई को आयोजित होने वाली उत्तर पुस्तिका के मूल्यांकन के आधार पर घोषित किया जाएगा. जबकि जो परीक्षार्थी फिर से परीक्षा में शामिल नहीं होंगे, उनका परिणाम 23 जून की उत्तर पुस्तिका के मूल्यांकन के आधार पर घोषित किया जाएगा.
और भी

चौथे राउंड में IIT BTech क्लोजिंग रैंक में हुई बढ़ोतरी

JOSAA : जोसा ने आईआईटी आईएसएम समेत देश के 23 आईआईटी के लिए सीट आवंटन का चौथा राउंड जारी कर दिया है। धनबाद में 1,125 सीटों पर नामांकन के लिए सीट आवंटन की प्रक्रिया जारी है। चौथे राउंड में आईआईटी धनबाद को कंप्यूटर इंजीनियरिंग में सर्वश्रेष्ठ 1817 रैंक मिला है। संस्थान का अंतिम रैंक 24273 है। तीसरे राउंड में अंतिम रैंक 24,262 था। ऐसे में चौथे राउंड में अंतिम रैंकिंग में मामूली बढ़ोतरी हुई है। कई ब्रांच में ओपनिंग और क्लोजिंग लाइन तीसरे राउंड की ही है। बीटेक के छात्र 28 को करेंगे रिपोर्टिंग आईआईटी आईएसएम में बीटेक समेत अन्य कोर्स में नामांकित छात्रों की रिपोर्टिंग 28 जुलाई से शुरू होगी। छात्रों को स्टूडेंट एक्टिविटी सेंटर पहुंचना होगा। वहां से नामांकित छात्रों को सीधे हॉस्टल भेजा जाएगा। पेनमैन में ओरिएंटेशन प्रोग्राम के बाद 29 और 30 जुलाई को कक्षाएं शुरू होंगी। एनएलएससी में चार अगस्त को दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।
15 जुलाई से आईआईटी पहुंचेंगे नए छात्र-
नए सत्र 2024-25 के लिए आईआईटी आईएसएम के मुख्य परिसर में नव नामांकित छात्रों का आगमन 15 जुलाई से शुरू होगा। डॉक्टरेट में नामांकित छात्रों की पहली रिपोर्ट 15 जुलाई को बनेगी। न्यू लेक्चरर हॉल कॉम्प्लेक्स के कमरा नंबर एक से छह में सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक विभिन्न प्रक्रियाएं पूरी की जाएंगी।
डॉक्टरेट कोर्स में नामांकन लेने वाले छात्रों को कई प्रमाण पत्र साथ लाने होंगे। डॉक्टरेट के बाद अन्य करियर के छात्रों की रिपोर्ट आनी शुरू होगी। विभिन्न एमटेक कोर्स में नामांकित छात्रों की कैंपस रिपोर्ट 23 जुलाई को होगी। रिपोर्ट के अनुसार, 25 जुलाई से कक्षाएं शुरू होने की संभावना है। एमएससी और एमएससी टेक में नामांकित छात्र 22 जुलाई को आईआईटी आईएसएम पहुंचेंगे।
और भी

IIT में अब हिंदी में होगी BTech की पढ़ाई

BTech in Hindi : आईआईटी जोधपुर में अब अंग्रेजी के साथ हिंदी में भी बीटेक किया जा सकेगा। देश के अग्रणी तकनीकी संस्थान ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के तहत हिंदी में बीटेक डिग्री कोर्स शुरू किया है। हिंदी मीडियम बीटेक में एडमिशन जेईई एडवांस के स्कोर के आधार पर होगा। फ्रेशर्स को क्लास शुरू होने से पहले हिंदी और अंग्रेजी शिक्षकों में से किसी एक को चुनने का विकल्प मिलेगा। हिंदी मीडियम हो या अंग्रेजी मीडियम, भाषा की पसंद के आधार पर दो सेक्शन बनाए जाएंगे। दोनों सेक्शन एक ही प्रोफेसर पढ़ाएंगे। छात्रों के पास सत्र के दौरान हिंदी या अंग्रेजी सेक्शन के बीच स्विच करने का विकल्प भी होगा। इसके अलावा छात्रों का दोनों औसत के लिए एक ही स्तर पर मूल्यांकन किया जाएगा। आईआईटी जोधपुर की इस नई पहल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर कर रहे हैं। दोनों सेक्शन अंग्रेजी में पेश किए जाएंगे। यह पहल यह सुनिश्चित करने के लिए बनाई गई है कि सभी छात्र उस भाषा में प्रभावी ढंग से सीख सकें जिसमें वे सबसे अधिक सहज हैं और दोनों सेक्शन एक ही प्रशिक्षक द्वारा पढ़ाए जाएंगे। आईआईटी जोधपुर में अधिक समावेशी और सहायक शैक्षिक वातावरण को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम।
संस्थान की सीनेट ने 26 जून 2024 को हुई अपनी 38वीं बैठक में तथा उच्चतर सभा ने 28 जून 2024 को हुई अपनी बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। हालांकि, कुछ वर्ष पहले केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तुत हिंदी में इंजीनियरिंग के इस प्रस्ताव को आईआईटी संस्थानों की ओर से विरोध का सामना करना पड़ा था। आईआईटी संस्थानों का कहना था कि हिंदी में इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम रोजगार की संभावनाओं, उद्योग की जरूरतों तथा वैश्विक कार्यस्थल के लिहाज से ठीक नहीं हैं। लेकिन छात्र अपनी क्षेत्रीय भाषा में तकनीकी विषयों को ठीक से पढ़ और समझ सकें, इसके लिए आईआईटी हिंदी में बी.टेक भी शुरू करेगा।
और भी

शिक्षक भर्ती परीक्षा का एडमिट कार्ड हुआ जारी

BPSC TRE 3.0 Exam admit card : बीपीएससी तृतीय चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा का एडमिट कार्ड मंगलवार को जारी कर दिया गया। आधिकारिक वेबसाइट पर दिए गए लिंक पर क्लिक कर आप एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही अभ्यर्थियों को उनके सेंटर वाले शहर की भी जानकारी मिलेगी। 27 जिलों में चार सौ से अधिक सेंटर बनाए गए हैं। बता दें कि बीपीएससी ने पहले ही नोटिस जारी कर कहा था कि परीक्षा के एडमिट कार्ड 9 जुलाई को जारी किए जाएंगे।
आयोग ने परीक्षा का कार्यक्रम पहले ही प्रकाशित कर दिया था। इस बार आयोग ने सभी डीएम को परीक्षा में किसी तरह की लापरवाही नहीं बरतने को कहा है। सेंटरों पर जैमर लगाए जाएंगे। साथ ही आयोग कार्यालय से लाइव मॉनिटरिंग होती रहेगी। इसके अलावा प्रश्नों को लेकर कई स्तरों पर गोपनीय कार्य किए जा रहे हैं। इसमें सेंध लगाना मुश्किल होगा। परीक्षा हॉल में प्रवेश से पहले कई स्तरों पर जांच की जाएगी। इसमें छह लाख से अधिक अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं। परीक्षा 19 से 22 जुलाई के बीच होगी। 19 को कक्षा 6-8 के लिए गणित व विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत व उर्दू की परीक्षा होगी। कक्षा 1 से 5 तक के सभी विषयों की परीक्षाएं 20 जुलाई को होंगी। कक्षा 9 और 10 के सभी विषयों की परीक्षाएं 21 जुलाई को और कक्षा 11 और 12 के सभी विषयों की परीक्षाएं 22 जुलाई को होंगी।
87,774 स्थान निर्धारित किए जाएंगे। परीक्षा 19, 20 और 21 जुलाई को एक शिफ्ट में और 22 जुलाई को दो शिफ्ट में होगी। उम्मीदवारों को एक घंटे के लिए आना होगा। देरी से पहुंचने पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। तीसरे चरण की परीक्षा 5 मार्च को हुई थी। दस्तावेज लीक होने के बाद परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी।

 

और भी

सेल में B Tech डिग्री धारकों के लिए निकली भर्ती

SAIL Vacancy : सेल (SAIL) के निदेशकों व कर्मचारियों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो गई है। फिलहाल 249 पदाधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी। इसके तहत विभिन्न विभागों में बीटेक कर रहे इंजीनियरिंग अभ्यर्थी 25 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। जिन विभागों में नियुक्ति प्रक्रिया शुरू हो गई है, उनमें धातुकर्म में 172, विद्युत में 203, यांत्रिक में 314, इंस्ट्रूमेंटेशन में 45, सिविल में 68, रसायन शास्त्र में 52, कार्मिक में 18, इलेक्ट्रॉनिक्स में 24, आईटी में 62 पदों पर बहाली होगी। यह नियुक्ति प्रक्रिया डोर के जरिए होगी। जबकि श्रमिक श्रेणी में ऑपरेटर व टेक्नीशियन अप्रेंटिस (operator and technician apprentice) श्रेणी के लिए 964 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। सेल के बोकारो इस्पात संयंत्र समेत अन्य संयंत्रों में साक्षात्कार के बाद चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति जल्द ही की जाएगी। इसके लिए सेल स्तर पर इसी माह साक्षात्कार समेत अन्य प्रक्रियाएं पूरी कर ली जाएंगी।
उत्पादन लक्ष्य हासिल करने के लिए खरीद का दौर शुरू-
सेल प्रबंधन ने वर्ष 2030 तक बोकारो स्टील प्लांट समेत विभिन्न सेल प्लांटों की उत्पादन क्षमता 30 मिलियन टन करने के लक्ष्य को हासिल करने की तैयारी शुरू कर दी है। इस संदर्भ में बड़ी संख्या में पदाधिकारियों के साथ-साथ विभिन्न ग्रेड के कर्मचारियों की नियुक्ति प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। वर्तमान में बोकारो स्टील प्लांट में हॉट मेटल का उत्पादन करीब पांच टन है। प्लांट की सभी यूनिटों को लगातार अपडेट किया जा रहा है। ताकि वर्ष 2030 तक 14 एमटी उत्पादन लक्ष्य को हासिल किया जा सके।
और भी
Previous123456789...4546Next

Jhutha Sach News

news in hindi

news india

news live

news today

today breaking news

latest news

Aaj ki taaza khabar

Jhootha Sach
Jhootha Sach News
Breaking news
Jhutha Sach news raipur in Chhattisgarh