फटा-फट खबरें

UPSC Result 2023 : आदित्य श्रीवास्तव बने यूपीएससी टॉपर

नई दिल्‍ली। संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा ली जाने वाली देश की सबसे बड़ी सिविल सर्विस परीक्षा का फाइनल रिजल्ट आ गया है। सिविल सर्विस परीक्षा में इस साल आदित्य श्रीवास्तव ने टॉप किया है। उन्होंने इस परीक्षा में पहली रैंक हासिल की है। दूसरे नंबर पर अनिमेश प्रधान हैं। टॉप 3 में तीसरा स्थान डोनुरु अनन्या रेड्डी ने हासिल किया है।
यूपीएससी की इन परीक्षाओं में कुल 180 उम्मीदवार भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के लिए चुने गए हैं। वहीं, 200 उम्मीदवार इंडियन पुलिस सर्विस यानी आईपीएस के लिए चुने गए हैं। भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) के लिए 37 उम्मीदवारों का चयन हुआ है।
इन परीक्षाओं के माध्यम से 613 उम्मीदवारों का चयन केंद्र सरकार के विभिन्न ग्रेड ए पदों पर हुआ है। 113 उम्मीदवार ग्रेड बी पद के लिए चुने गए हैं। सिविल सर्विस के लिए ली जाने वाली यूपीएससी परीक्षा के तीन चरण होते हैं, प्रीलिम्स, मेन्स और पर्सनालिटी टेस्ट (इंटरव्यू)। यूपीएससी ने इस संबंध में जानकारी उपलब्ध कराते हुए बताया कि परीक्षा के इस वर्ष इंटरव्यू का समापन 9 अप्रैल 2024 को हुआ था। आईएएस के लिए इंटरव्यू 4 जनवरी को शुरू हुए थे और 9 अप्रैल तक इंटरव्यू चले।
यूपीएससी के मुताबिक अलग-अलग चरणों में आयोजित किए गए इंटरव्यू में कुल 2,800 से अधिक उम्मीदवार शामिल हुए थे। इस पूरी प्रक्रिया के उपरांत सिविल सर्विस (आईएएस, आईएफएस, आईपीएस व अन्य केंद्रीय पद) पर चयनित हुए उम्मीदवारों के नाम व रोल नंबर उनकी रैंक के हिसाब से जारी किए गए हैं। यूपीएससी ने इस वर्ष आईएएस, आईएफएस, आईपीएस व अन्य केंद्रीय सेवाओं में ग्रुप ए और ग्रुप बी के 1,105 पदों पर रिक्तियों को भरने के लिए परीक्षा आयोजित की थी।
यूपीएससी सिविल सेवा प्रीलिम्स परीक्षा बीते साल 28 मई को आयोजित की गई थी। प्रीलिम्स में कामयाब होने वाले उम्मीदवार अगले राउंड की परीक्षा में शामिल हुए थे। दूसरे राउंड की परीक्षाएं यूपीएससी ने 15, 16, 17, 23 और 24 सितंबर 2023 को दो शिफ्ट में आयोजित की थी।
कौन हैं आदित्य श्रीवास्तव; जिन्होंने UPSC परीक्षा में किया टॉप-
सिविल सेवा परीक्षा 2023 में टॉप करने वाले आदित्य श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश के लखनऊ के रहने वाले हैं और उन्होंने अपना ग्रेजुएशन IIT कानपुर से पूरा किया है। बता दें कि आदित्य 2017 से सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे थे और इस साल उन्होंने परीक्षा पास करके पहली रैंक हासिल की है। आदित्य ने अपनी शुरुआती पढ़ाई लखनऊ से ही पूरी की। लखनऊ से 12वीं करने के बाद आदित्य ने आईआईटी कानपुर में एडमिशन लिया। IIT कानपुर से उन्होंने बीटेक और एमटेक की डिग्री हासिल की।
UPSC के टॉप 20 अभ्यर्थी-
आदित्य श्रीवास्तव
अनिमेश प्रधान
अनन्या रेड्डी  
पीके सिद्धार्थ रामकुमार
रुहानी कुमारी
सृष्टि डबास
अनमोल राठौड़
आशीष कुमार
नौशीन खान
ऐश्वर्यमा प्रजापति
कुश मोटवानी
अनिकेत शांडिल्य
मेधा आनंद
शौर्य अरोड़ा
कुणाल रस्तोगी
अयान जैन
स्वाति शर्मा
वरदा खान
शिवम कुमार
आकाश वर्मा
और भी

व्‍यापमं ने प्रवेश परीक्षाओं की तारीख में किया बदलाव, आदेश जारी

रायपुर। लोकसभा चुनाव की वजह से व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्‍यापमं) ने विभिन्‍न प्रवेश परीक्षाओं की तारीख में बदलाव किया है। इस संबंध में व्‍यापमं ने आदेश भी जारी कर दिया है।
व्यापम द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि लोकसभा चुनाव की तिथियां घोषित होने के कारण प्रवेश एवं पात्रात परीक्षाओं की पूर्व निर्धारित परीक्षा तिथियों में संशोधन किया गया है। व्यापम ने इसके पहले परीक्षा की संभावित तिथि 12 फरवरी को जारी की थी। उस वक्त लोकसभा चुनाव की तिथियां घोषित नहीं की गई थी। अब चुनाव की तारीखों के आधार पर व्यापम ने नई समय सारिणी घोषित की है।
और भी

आईपीयू सीईटी की पंजीकरण विंडो जल्द होगी बंद, ipu.ac.in यहां करें आवेदन

इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय (आईपीयू) कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) 2024 के लिए पंजीकरण विंडो आज बंद होने जा रही है। इच्छुक उम्मीदवार जिन्होंने अभी तक पंजीकरण नहीं किया है, वे आधिकारिक वेबसाइट ipu.ac.in पर जाकर अपने आवेदन जमा कर सकते हैं। 
आपको बता दें कि आईपीयू सीईटी की परीक्षा का आयोजन 27 अप्रैल से 14 मई 2024 तक ऑफलाइन मोड में किया जाएगा। डिप्लोमा धारकों और बीएससी स्नातकों के लिए बीटेक कार्यक्रम में पार्श्व प्रवेश के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है।
शैक्षणिक योग्यता-
आईपीयू सीईटी 2024 परीक्षा देने के इच्छुक उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित में कम से कम 55% प्राप्त करते हुए अपनी कक्षा 12 की शिक्षा पूरी करनी होगी। इसके अतिरिक्त, स्नातक (यूजी) कार्यक्रमों के लिए आवेदन करने वालों की आयु कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए, जबकि स्नातकोत्तर (पीजी) कार्यक्रमों में रुचि रखने वाले उम्मीदवारों की आयु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
परीक्षा पैटर्न-
पाठ्यक्रम- यूजी, पीजी, बीएड और पीएचडी पाठ्यक्रम
परीक्षा शुल्क- 1,200 रुपये
परीक्षा अवधि- 3 घंटे
अनुभाग की संख्या- 3
कुल सवाल- 150
कैसे करें आवेदन-
सबसे पहले उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ipu.ac.in पर जाएंगे।
उसके बाद पंजीकरण पूरा करने के लिए व्यक्तिगत विवरण और संपर्क जानकारी प्रदान करें।
क्रेडेंशियल का उपयोग करके लॉग-इन करें और आवेदन पत्र भरें।
आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें, फॉर्म को चेक करने के बाद सबमिट करें।
आवेदन शुल्क का भुगतान करें और फॉर्म जमा करें।
उम्मीदवार फोर्म की एक कॉपी अपने पास रख सकते हैं।
 
और भी

अचानक परीक्षा रद्द, भड़के पीजी कॉलेज के स्टूडेंट्स

बेमेतरा/दुर्ग। बेमेतरा के पीजी कॉलेज के छात्र-छात्राओं को कॉलेज से मायूस होकर घर लौटना पड़ा। बताया जा रहा है कि छात्राओं को अपने परीक्षा की तैयारी कर आज होने वाले परीक्षा के लिए पीजी कॉलेज पहुंचे थे जहां पर आज सुबह बीएससी फस्टियर गणित के दूसरा भाग का परीक्षा होना था,जहां पर प्रश्न पत्र जो विषय का था वह नहीं था जिसके चलते मायूस हो कर घर लौटना पड़ा। बता दें कि कहीं न कहीं दुर्ग हेमचंद विश्वविद्यालय की बड़ी लापरवाही से आज का प्रश्न पत्र गलत आ जाने के कारण छात्र-छात्राओं को मायूसी का सामना करना पड़ा।
छात्रों ने बताया कि आज हमारी एक पेपर हो जाती तो इसके बाद हमारी दूसरी पेपर की तैयारी होते रहती, लेकिन आज होने वाले गणित की दूसरी भाग के प्रश्न पत्र के बदले बीएससी फस्टियर के एलजेब्रा का केलकुलेशन सिलेबस था उसी से संबंधित प्रश्न पत्र दिया गया था, जिसकी जानकारी मिलने के बाद परीक्षा को रोका गया।
इससे देखा जा सकता है कि कहीं न कहीं विश्वविद्यालय की बड़ी चूक है। वहीं परीक्षा केंद्राअध्यक्ष ने बताया कि जानकारी के बाद विश्वविद्यालय की दिशा निर्देश से आज होने वाले परीक्षा को रद्द किया गया है और दिशा निर्देश के बाद आज होने वाले परीक्षा जल्द ही होगा । कहीं ना कहीं बहुत बड़ी चूक या लापरवाही कहा जा सकता है जिसका खामियाजा छात्र-छात्राओं को उठाना पड़ा है।
और भी

आज बंद हो जाएगी नीट यूजी आवेदन सुधार विंडो

  • जानिए...किन विवरणों में कर सकते हैं बदलाव
राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी आज, 12 अप्रैल को राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET UG 2024) के लिए उपलब्ध आवेदन सुधार विंडो बंद करने वाली है। जिन उम्मीदवारों ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा (नीट यूजी) के लिए सफलतापूर्वक पंजीकरण किया है, वे आधिकारिक वेबसाइट Exams.nta.ac.in/NEET पर जाकर अपने आवेदन पत्र में सुधार कर सकते हैं।
NEET UG 2024 आवेदन पत्र को संपादित करने के लिए उम्मीदवारों को अपने लॉगिन क्रेडेंशियल जैसे पंजीकरण संख्या और जन्म तिथि का उपयोग करना होगा। 
कितना है आवेदन सुधार शुल्क?-
नीट आवेदन सुधार के लिए किसी शुल्क की आवश्यकता नहीं है। हालांकि, यदि श्रेणी को संशोधित करने या किसी अंतर्राष्ट्रीय शहर का चयन करने जैसे परिवर्तनों से आवेदन शुल्क प्रभावित होता है, तो उम्मीदवारों को अतिरिक्त शुल्क देना होगा। ये अतिरिक्त शुल्क क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, यूपीआई और पेटीएम जैसे तरीकों से ऑनलाइन जमा करना होगा।
ऐसे मामलों में जहां कोई उम्मीदवार सामान्य से आरक्षित श्रेणी में चला गया है और उसने पहले ही अतिरिक्त शुल्क का भुगतान कर दिया है, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) अतिरिक्त राशि वापस नहीं करेगी। एनटीए ने कहा है, "ऐसे मामलों में जहां लिंग, श्रेणी, या पीडब्ल्यूडी स्थिति में परिवर्तन शुल्क राशि को प्रभावित करते हैं, उम्मीदवारों से तदनुसार अतिरिक्त शुल्क लिया जाएगा। कृपया ध्यान दें कि किया गया कोई भी अतिरिक्त भुगतान वापस नहीं किया जाएगा।"
सुधार विंडो के दौरान उम्मीदवार इन विवरणों को संपादित नहीं कर सकेंगे-
NEET पंजीकरण के दौरान उपयोग किया गया मोबाइल नंबर
पंजीकरण के दौरान उपयोग किया गया ईमेल पता
इन विवरणों को कर सकेंगे संपादित-
उम्मीदवार NEET UG 2024 आवेदन पत्र के निम्नलिखित क्षेत्रों में बदलाव कर सकेंगे-
लिंग
राष्ट्रीयता
आधार पुनः प्रमाणीकरण
वर्ग
व्यक्तिगत विवरण
शैक्षिक योग्यता (कक्षा 10, 11 और 12): तैयारी का तरीका, उत्तीर्ण होने का वर्ष, स्कूली शिक्षा का विवरण, प्राप्त अंक/सीजीपीए, बोर्ड, रोल नंबर आदि।
जन्म स्थान
माता-पिता की आय का विवरण
लागू दस्तावेजों को अपलोड करना: श्रेणी प्रमाण पत्र, बेंचमार्क विकलांगता वाले व्यक्ति (पीडब्ल्यूबीडी) प्रमाण पत्र, कक्षा 10 प्रमाण पत्र, नागरिकता प्रमाण पत्र
 
और भी

CG Board : 10 मई तक आ सकते हैं 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे

  • 14 अप्रैल तक मूल्यांकन होगा पूरा
रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल 10 मई तक 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे जारी कर सकती है। बोर्ड परीक्षाओं के खत्म होने के बाद मंडल चेयरमैन रेणु पिल्लै वीडियो कॉन्फ्रेंस कर केन्द्राध्यक्षों को 14 अप्रैल तक मूल्यांकन का काम पूरा करने के निर्देश दिए हैं। इस बार 10वीं में 3 लाख 42 हजार 511 छात्र और 12वीं में 2 लाख 54 हजार 906 छात्रों ने परीक्षा में भाग लिया।
90 फीसदी मूल्यांकन का काम पूरा
10वीं और 12वीं के लिए अब तक लगभग 85 से 90 फीसदी मूल्यांकन का काम पूरा हो चुका है। मूल्यांकन पूरा होते ही रिजल्ट जारी करने की तैयारियां पूरी की जाएंगी। उम्मीद जताई जा रही है कि हर हाल में 10 मई के पहले दसवीं और बारहवीं के नतीजे घोषित किए जाएंगे।
दो चरणों में मूल्यांकन-
मूल्यांकन दो चरणों में शुरू हुआ था। पहले चरण में 23 मार्च और दूसरे चरण में 31 मार्च को मूल्यांकन किया गया, जो अब भी जारी है। कुल मिलाकर 36 केन्द्र बनाए गए हैं। 32 लाख उत्तरपुस्तिकाओं की जांच का काम चल रहा है। मूल्यांकन में करीब 18 हजार शिक्षक लगे हुए हैं।
और भी

छत्‍तीसगढ़ के युवाओं में बढ़ रहा डाक्टरी की पढ़ाई का क्रेज

  • इस साल 43 हजार से अधिक अभ्‍यर्थियों ने किया आवेदन
रायपुर। युवाओं का मेडिकल के प्रति रुझान बढ़ता जा रहा है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पांच वर्ष पहले प्रदेश से लगभग 28 हजार अभ्यर्थी नीट परीक्षा देते थे, लेकिन इस वर्ष यह आकंड़ा लगभग 43 हजार पहुंच गया है। प्रदेश में 13 मेडिकल कालेज हैं, जिनमें 10 शासकीय और तीन निजी कालेज है। इनमें 1,910 सीटें हैं। इनमें 1,460 शासकीय और 450 सीटें निजी कालेजों में हैं।
नीट के लिए आए आवेदनों से तुलना करें तो सरकारी कालेज की एक सीट के लिए लगभग 30 उम्मीदवार है। पूरी सीटों के अनुसार देखा जाए तो छात्रों की संख्या 22 गुना ज्यादा है। नीट में स्पर्धा वर्ष प्रति वर्ष बढ़ रही है। नीट के लिए आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो चुकी है।
पिछले पांच वर्षों में छत्तीसगढ़ से परीक्षा देने वालों की संख्या में 50 प्रतिशत से ज्यादा की बढ़ोत्तरी हुई है। बीते वर्षों की तुलना में इस वर्ष नीट यूजी के लिए सबसे ज्यादा पंजीयन हुए हैं। नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेस टेस्ट (नीट) यूजी-2024 पांच मई को होने वाली है। इसके लिए रायुपर भिलाई-दुर्ग, बिलासपुर को मिलाकर प्रदेश में कुल 19 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। वर्ष 2019 में प्रदेश के 28,391 छात्रों ने नीट के लिए रजिस्टर किए थे और इस साल 43,000 से ज्यादा आवेदन आए हैं।
नीट यूजी से एमबीबीएस के अलावा बीडीएस में भी प्रवेश होगा। राज्य में एक सरकारी समेत छह डेंटल कॉलेज हैं। वहीं प्रदेश में 10 शासकीय व तीन निजी संस्थान हैं। रायपुर में 230 एमबीबीएस सीटें है। पिछले 10 वर्षों में मेडिकल कालेजों की संख्या बढ़ी है। 2014 में देश में 387 मेडिकल कालेज थे, जो इस वर्ष बढ़कर 704 हो गए हैं।
2014 की तुलना में एमबीबीएस की सीटों में भी 110 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 2014 में मेडिकल की 51,348 सीटें थी, वर्तमान में 1,07948 सीटें हैं। वहीं, 56,283 सीटें सरकारी मेडिकल कालेज में हैं, बाकि बची 51,665 सीटें निजी कालेजों में हैं। 704 मेडिकल कालेजों में से 379 सरकारी कालेज व 315 निजी मेडिकल कालेज हैं।
2023-24 में तीन लाख बढ़ गए अभ्यर्थी-
नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (यूजी) में प्रवेश के लिए सत्र 2024-25 में 24 लाख पंजीकरण हुए हैं। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष तीन लाख ज्यादा छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। पिछले सात वर्षों में एक वर्ष में सबसे ज्यादा इस बार अभ्यर्थियों की संख्या बढ़ी है। पिछले नौ वर्षों से लगातार नीट के लिए ज्यादा अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन करवा रहे हैं।
नीट में लड़कियां ज्यादा-
मेडिकल प्रवेश परीक्षा में लड़कों की तुलना में लड़कियों का प्रदर्शन पिछले वर्षों में अच्छा रहा है। इस वर्ष भी मेडिकल को लेकर लड़कियों का रुझान ज्यादा है। नीट के के लिए 57.2 प्रतिशत लड़कियां और 42.8 प्रतिशत लड़कों ने आवेदन किया है। वहीं 2023 में 56.7 प्रतिशत और 2022 में 53.5 प्रतिशत लड़कियां परीक्षा में शामिल हुई थी। 2019 से यह ट्रेड चल रहा है, जिसमें परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों में 50 प्रतिशत से ज्यादा लड़कियां है।
 
और भी

मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में प्रवेश लेने वाले के लिए अच्छी खबर

  • अब उन्हें बीटेक की एक और ब्रांच का मिलेगा विकल्प
इलाहाबाद। मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एमएनएनआईटी) में प्रवेश लेने वाले छात्र-छात्राओं के लिए अच्छी खबर है. अब उन्हें बीटेक की एक और ब्रांच का विकल्प मिलेगा. नए शैक्षिक सत्र से अप्लाइड मैकेनिक्स विभाग में बीटेक इन मैटेरियल साइंस की पढ़ाई होगी.
नई शिक्षा नीति के तहत यह पाठ्यक्रम डिजाइन किया गया है. पाठ्यक्रम के संचालन की मंजूरी शैक्षिक मामलों में निर्णय लेने वाली संस्थान की संस्था सीनेट से मिल गई है. बाद प्रस्तावित बोर्ड ऑफ गवर्नर्स (बीओजी) की बैठक में इसे शामिल किया जाएगा. नए सत्र में प्रवेश के लिए ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (जोसा) को पाठ्यक्रम की जानकारी देना प्रस्तावित है. 30 सीटों के सापेक्ष प्रवेश लिया जाएगा. बीटेक के इस नए पाठ्यक्रम में विद्यार्थी पदार्थ बनाने, उसके परीक्षण एवं प्रयोग की पढ़ाई करेंगे. पाठ्यक्रम में एआई और मशीन लर्निंग को भी शामिल किया गया है. विभाग के डॉ. अभिषेक ने बताया कि यह पाठ्यक्रम मैकेनिक्स की नई प्रौद्योगिकी को समझने और उपकरण डिजाइन करने को लेकर तैयार किया गया है.
बीटेक की यह होगी दसवीं ब्रांच: संस्थान में बीटेक की यह दसवीं ब्रांच होगी. अब इलेक्ट्रानिक्स, मैकेनिकल, सिविल, इलेक्ट्रिकल, कम्प्यूटर साइंस, बायोटेक्नोलॉजी, केमिकल, प्रोडेक्शन इंजीनियरिंग, इंजीनियरिंग एंड कंप्यूटेशनल मैकेनिक्स और बीटेक इन मैटेरियल इंजीनियरिंग ब्रांचों में प्रवेश लिया जाएगा.
और भी

व्यापमं ने प्रवेश परीक्षा के लिए मंगाए आवेदन

रायपुर। छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल रायपुर ने आगामी जून-जुलाई से शुरू होने वाले कई प्रकार के कोर्स में प्रवेश (एडमिशन) हेतु पोस्ट बेसिक नर्सिंग, बीएससी नर्सिंग, एमएससी नर्सिंग, सीजीटीईटी, प्रीएमसीए, पीईटी, पीपीएचटी, पीपीटी आदि के प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है। पीईटी, पीपीएचटी, पीपीटी, प्रीएमसीए, सीजीटीईटी और बीएससी नर्सिंग कोर्स में प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 7 अप्रैल 2024 है।
इसी प्रकार पोस्ट बेसिक नर्सिंग प्रवेश, एमएससी नर्सिंग प्रवेश परीक्षा के आवेदन के लिए अंतिम तिथि 11 अप्रैल 2024 है। इसी प्रकार पीएटी, पीव्हीपीटी प्रवेश परीक्षा के आवेदन के लिए अंतिम तिथि 14 अप्रैल 2024 है। छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल रायपुर की वेबसाइट (व्यापमं डॉट सीजीस्टेट डॉट जीओव्ही डॉट इन) है। इस संबंध में विस्तृत जानकारी, काउसलिंग, आवंटन आदि छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल की वेबसाइट vyapam.cgstate.gov.in और vyapamaar.cgstate.gov.in/ पर प्राप्त की जा सकती है।
और भी

स्कूल खुलने का समय शिक्षा विभाग ने बदला, सुबह लगेगी क्लास

रायपुर। इन दिनों तपती धूप और चिलचिलाती गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। तापमान में बढ़ोत्तरी से लोगों का हाल-बेहाल कर दिया है। जिसे देखते हुए छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग ने एक आदेश जारी किया है। जिसमें उन्होंन लगातार बढ़ते तापमान और गर्मी के प्रकोप को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा स्कूलों के समय में बदलाव करने का फैसला लिया है।
बता दें कि राजधानी रायपुर में तेजी से गर्मी बढ़ने लगी है। इसके चलते स्कूली जिला शिक्षा अधिकारी ने बच्चों की टाइमिंग में बड़ा बदलाव किया गया है। इसके लिए जिला शिक्षा अधिकारी ने आदेश भी जारी कर दिया है। दोपहर की चिलचिलाती धूप के कारण बच्चे परेशान हो रहे थे। इसलिए स्कूल टाइमिंग में बदलाव किया गया है। जिसमें अब दो पाली में स्कूल लगेगी। जिसमें सरकारी स्कूल सुबह 7:30 से 11:30 बजे तक चलेगी।
और भी

बिहार बोर्ड-2024 : कल बीएसईबी कक्षा 10वीं के परिणाम होंगे घोषित

  • वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर घोषित किया जाएगा परिणाम
बिहार। आधिकारिक पुष्टि के अनुसार, बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड (बीएसईबी) कल 31 मार्च को बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं परिणाम 2024 की घोषणा करने के लिए तैयार है। बिहार बोर्ड के अधिकारी जल्द ही 10वीं रिजल्ट जारी होने के समय के बारे में पुष्टि करेंगे| बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं का परिणाम बीएसईबी की आधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर घोषित किया जाएगा। कक्षा 10वीं बिहार बोर्ड की पहली परीक्षा 15 फरवरी को आयोजित की गई थी जबकि आखिरी परीक्षा 23 फरवरी को आयोजित की गई थी। बीएसईबी ने ये परीक्षा राज्य के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की थी, जहां लगभग 16 लाख छात्र कक्षा 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे। बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर कल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान परिणामों की घोषणा करेंगे, जहां वह बोर्ड परीक्षा के टॉपर्स के नाम, उत्तीर्ण प्रतिशत और बहुत कुछ सहित महत्वपूर्ण विवरण का खुलासा करेंगे। बीएसईबी अध्यक्ष आनंद किशोर की प्रेस कॉन्फ्रेंस समाप्त होने के बाद परिणाम देखने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर स्कोरकार्ड लिंक सक्रिय हो जाएगा। उम्मीदवार अपने स्कोरकार्ड की जांच कर सकते हैं और रोल कोड और रोल नंबर का उपयोग करके आधिकारिक वेबसाइट से अपनी अनंतिम मार्कशीट डाउनलोड कर सकते हैं।
परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए, छात्रों को बिहार बोर्ड कक्षा 10 की परीक्षा में न्यूनतम 33 प्रतिशत अंक प्राप्त करने होंगे। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि छात्रों को परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनों परीक्षाओं में कम से कम 33 प्रतिशत अंक चाहिए।
बिहार बोर्ड कक्षा 10 के परिणाम की जाँच करने के चरण नीचे दिए गए हैं-
चरण 1: बीएसईबी की आधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर जाएं
चरण 2: मैट्रिक रिजल्ट टैब पर क्लिक करें।
चरण 3: लॉगिन क्रेडेंशियल दर्ज करें।
चरण 4: परिणाम स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
चरण 5: भविष्य के संदर्भ के लिए स्कोरकार्ड डाउनलोड करें
2023 में, बिहार बोर्ड कक्षा 10 के परिणाम का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 81.04 प्रतिशत रहा। इसके अतिरिक्त, बीएसईबी ने 23 मार्च को बिहार बोर्ड कक्षा 12 के परिणाम घोषित किए, जहां कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 87.21 रहा।
और भी

यूपीएससी इंजीनियरिंग परीक्षा 2024 प्रारंभिक परीक्षा परिणाम जारी

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा 2024 (ईएसई 2024) प्रारंभिक परीक्षा परिणाम की घोषणा कर दी है। आगामी दौर की परीक्षाओं के लिए चयनित उम्मीदवारों की सूची आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित कर दी गई है। परीक्षा 18 फरवरी को आयोजित की गई थी. इसके अतिरिक्त, आयोग ने घोषणा की है कि यूपीएससी ईएसई मेन्स 2024 परीक्षा 23 जून को आयोजित की जाएगी।
योग्य उम्मीदवारों की सूची देखें
यूपीएससी ईएसई 2024 का लक्ष्य चार श्रेणियों: सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स और दूरसंचार इंजीनियरिंग में बेंचमार्क विकलांग व्यक्तियों (पीडब्ल्यूबीडी) के लिए आरक्षित पांच पदों सहित लगभग 167 पदों को भरना है।
मुख्य परीक्षा के लिए, यूपीएससी ईएसई प्रवेश पत्र परीक्षा तिथि से एक सप्ताह पहले जारी किए जाएंगे। अंतिम परिणाम घोषणा (व्यक्तित्व परीक्षण के बाद) सहित संपूर्ण इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा प्रक्रिया के समापन के बाद, इंजीनियरिंग सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2024 के अंक और कट-ऑफ अंक आयोग की वेबसाइट पर पोस्ट किए जाएंगे। आयोग ने कहा है कि मुख्य परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र बदलने के अनुरोध पर विचार नहीं किया जाएगा।
यूपीएससी हेल्पलाइन व्यक्तिगत सहायता के लिए या टेलीफोन के माध्यम से (011)-23388088/23385271/23381125/23098543 पर कार्यदिवसों में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चालू रहेगी। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यूपीएससी कार्यालय परिसर के अंदर मोबाइल फोन प्रतिबंधित है।
और भी

शीघ्रलेखन परीक्षा 31 मार्च को, मुद्रलेखन परीक्षा 7 अप्रैल से

  • हिन्दी और अंग्रेजी शीघ्रलेखन परीक्षा प्रवेश पत्र जारी
रायपुर। शीघ्रलेखन एवं मुद्रलेखन कम्प्यूटर कौशल परिषद्, लोक शिक्षण संचालनालय छत्तीसगढ़ द्वारा हिन्दी एवं अंग्रेजी शीघ्रलेखन की परीक्षा 31 मार्च को होगी। हिन्दी एवं अंग्रेजी मुद्रलेखन की विभिन्न गतियों (5000, 8000, 10,000) की परीक्षाएं 7 अप्रैल से प्रारंभ की जा रही है। परीक्षा कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी परिषद की वेबसाईट https://shiksha.cg.nic.in/ctsp पर उपलब्ध है।
शीघ्रलेखन एवं मुद्रलेखन कम्प्यूटर कौशल परिषद्, लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार परीक्षार्थियों को चयनित परीक्षा के एक सप्ताह पूर्व क्रमवार प्रवेश पत्र जारी किए जाएंगे। 31 मार्च 2024 को आयोजित होने वाली हिन्दी और अंग्रेजी शीघ्रलेखन परीक्षा प्रवेश पत्र जारी किए जा चुके हैं। एडमिट कार्ड पर चयनित परीक्षाओं की तिथियों, परीक्षा केन्द्र, बैच एवं समय की जानकारी अंकित है। परीक्षार्थियों से अपेक्षा की गई है कि सभी परिषद की वेबसाईट से अपना प्रवेश पत्र डाउनलोड कर लें एवं उसमें अंकित जानकारियों एवं निर्देशों का भलि-भांति से अवलोकन कर लें। परीक्षार्थियों को क्रमवार एस.एम.एस. के माध्यम से सूचना उपलब्ध करायी जा रही है।
उल्लेखनीय है कि शीघ्रलेखन एवं मुद्रलेखन कम्प्यूटर कौशल परिषद्, लोक शिक्षण संचालनालय छत्तीसगढ़ द्वारा प्रथम सत्र अप्रैल, मई, जून 2024 के लिए कम्प्यूटर साफ्टवेयर के माध्यम से परिषद द्वारा निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षाएं आयोजित किए जाने हेतु ऑनलाईन आवेदन पत्र मंगाये गए थे। आवेदन पत्रों की जांच के पश्चात् 31 मार्च 2024 को हिन्दी एवं अंग्रेजी शीघ्रलेखन एवं 7 अप्रैल 2024 से हिन्दी एवं अंग्रेजी मुद्रलेखन की विभिन्न गतियों (5000, 8000, 10,000) की परीक्षाएं आरंभ की जा रही है।
और भी

अप्रैल तक जारी हो सकता है एनईईटी एमडीएस का परिणाम

  • ऐसे देखें अपनी रैंक
सूचना बुलेटिन के अनुसार, नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन इन मेडिकल साइंसेज (NBEMS) 18 अप्रैल तक एनईईटी एमडीएस का परिणाम घोषित करेगा। परिणाम जारी होने पर उम्मीदवार जो मास्टर ऑफ डेंटल सर्जरी के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा में उपस्थित हुए थे। आधिकारिक वेबसाइट https://natboard.edu.in/ से अपना परिणाम देख और डाउनलोड कर सकेंगे।
एनईईटी एमडीएस द्वारा परीक्षा18 मार्च, 2024 को आयोजित की गई थी और इसके लिए एडमिट कार्ड 13 मार्च को जारी किए गए थे। परीक्षा कंप्यूटर आधारित है और इसमें 240 बहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं।
मास्टर ऑफ डेंटल सर्जरी के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा स्नातकोत्तर दंत चिकित्सा पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए भारत में आयोजित एक प्रवेश परीक्षा है। यह एक एकल खिड़की प्रवेश परीक्षा है, जिसका अर्थ है कि आपको अलग-अलग कॉलेजों या विश्वविद्यालयों के लिए अलग-अलग परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं है।
रैंक कैसे जांचें?
एनईईटी एमडीएस स्कोरकार्ड 2024 जारी होने पर उम्मीदवार इसे डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते हैं:
सबसे पहले उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट natboard.edu.in पर जाएं।
होमपेज पर "चेक एनईईटी एमडीएस 2024 परिणाम" का विकल्प देखें और उस पर क्लिक करें।
एक बार क्लिक करने पर, NEET MDS परिणाम वाला एक पीडीएफ दस्तावेज आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगा।
पीडीएफ के अंदर, "नीट-एमडीएस 2024 का परिणाम देखने के लिए यहां क्लिक करें" शीर्षक वाले लिंक को ढूंढें और क्लिक करें।
फिर NEET MDS स्कोरकार्ड 2024 आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
अपना रोल नंबर, प्राप्त अंक, एनईईटी एमडीएस 2024 रैंक और आवेदन आईडी का पता लगाने के लिए पीडीएफ पर स्क्रॉल करें।
अपने परिणामों की समीक्षा करने के बाद, पीडीएफ डाउनलोड करें।
भविष्य के संदर्भ के लिए, डाउनलोड किए गए दस्तावेज का प्रिंटआउट ले लें।
और भी

सीयूईटी यूजी के लिए छात्र अब 31 मार्च तक कर सकेंगे आवेदन

  • यूजीसी अध्यक्ष ने बढ़ाई तारीख
CUET-UG Exam 2024 : कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET)-UG के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च तक बढ़ा दी गई है, UGC के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने मंगलवार को घोषणा की। इससे पहले, अंतिम तिथि मंगलवार रात 11 बजे तक थी।
उन्होंने कहा, "उम्मीदवारों और अन्य हितधारकों से प्राप्त अनुरोध के आधार पर सीयूईटी यूजी 2024 के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2024 को रात 9:50 बजे तक बढ़ा दी गई है।"
परीक्षा 15 से 31 मई तक आयोजित की जानी है।
देश भर में केंद्रीय, राज्य, डीम्ड और निजी विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करने के लिए 2022 में मानकीकृत परीक्षा शुरू की गई थी।
परंपरा से हटकर, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) ने सीयूईटी यूजी 2024 के लिए एक हाइब्रिड परीक्षा प्रारूप की रूपरेखा तैयार की है, जिसमें विभिन्न विषयों के लिए कंप्यूटर-आधारित परीक्षण और पेन-एंड-पेपर मोड दोनों शामिल हैं।
अधिकारियों ने संकेत दिया है कि जिन विषयों में पंजीकरण की संख्या अधिक है, उनमें ऑप्टिकल मार्क रिकग्निशन (ओएमआर) का उपयोग करते हुए पेन-एंड-पेपर प्रारूप अपनाया जाएगा, जबकि अन्य कंप्यूटर-आधारित रहेंगे।
पिछले चक्र में, सीयूईटी यूजी के लिए लगभग 14.9 लाख पंजीकरण दर्ज किए गए थे, जो उच्च शिक्षा परिदृश्य में इसके महत्व को दर्शाता है।
और भी

PSC की प्रारंभिक परीक्षा 2023 के परिणाम घोषित

  • यूपीएससी की तर्ज पर अभ्यर्थियों के वर्गवार तथा उपवर्गवार कटऑफ नंबर जारी
रायपुर। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा संघ लोक सेवा आयोग की तर्ज पर इस बार प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम जारी किए गए हैं। मुख्य परीक्षा हेतु अर्हता प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों के अनुक्रमांक और नाम के साथ ही वर्गवार और उपवर्गवार कटऑफ नंबर भी घोषित किए गए हैं। आयोग द्वारा जारी परिणाम में मुख्य परीक्षा हेतु कुल 3597 अभ्यर्थियों ने अर्हता प्राप्त की है।
छत्तीसगढ़ राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा 17 सेवाओं हेतु कुल 242 पद विज्ञापित की गए थे। इसके लिए 1 लाख 58 हजार 211 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत किए थे। चयन प्रक्रिया के पहले चरण के रूप में राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा-2023 का आयोजन 11 फरवरी 2024 को किया गया था। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ राज्य के युवाओं द्वारा लंबे समय से राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा के परिणामों के साथ वर्ग और उपवर्गवार कटऑफ अंक जारी किए जाने की मांग की जाती रही है। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा युवा प्रतिभागियों की मांग के अनुरूप इस बार प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम साथ कट-ऑफ अंक भी जारी किए गए हैं।
प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम और वर्गवार तथा उपवर्गवार कटऑफ नंबर आदि की जानकारी के लिए छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग की वेबसाईट https://www.psc.cg.gov.in/  पर लॉगिन किया जा सकता है।
और भी

छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षाएं अब 14 मई से

रायपुर। छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड रायपुर द्वारा आयोजित हाईस्कूल, हायर सेकेण्डरी पत्राचार पाठ्यक्रम परीक्षा 2024 तथा उर्दू अदीब, उर्दू माहिर प्रमाण-पत्र परीक्षा 2024 अब 14 मई 2024 से प्रारंभ होगी। लोकसभा निर्वाचन की घोषणा के बाद पूर्व में जारी समय-सारिणी में संशोधन किया गया है। छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के प्रभारी सचिव श्री पी. पी. द्विवेदी ने बताया है कि प्रदेश में तीन चरणों में मतदान की घोषणा की गई है। मतदान की तिथियों को दृष्टिगत रखते हुए परीक्षा समय-सारिणी में संशोधन किया गया है।
छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षाएं 14 मई से प्रारंभ होकर 27 मई तक जारी रहेगी। परीक्षा का समय प्रातः 9:00 बजे से 12:00 बजे तक निर्धारित है। राज्य के विभिन्न जिलों में परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं।
हाईस्कूल पत्राचार पाठ्यक्रम परीक्षा के अंतर्गत 14 मई को विशिष्ट उर्दू, 16 मई को विज्ञान, 18 मई को सामाजिक विज्ञान, 20 मई को गणित, 22 मई को सामान्य अंग्रेजी/सामान्य संस्कृत, 24 मई को सामान्य हिन्दी के प्रश्न-पत्र होंगे।
हायर सेकेण्डरी पत्राचार पाठ्यक्रम परीक्षा के तहत 14 मई को सामान्य हिन्दी/सामान्य अंग्रेजी, 16 मई को भूगोल, रसायन, लेखा शास्त्र, 18 मई को अर्थ शास्त्र, गणित, जीव विज्ञान, 20 मई को राजनीति शास्त्र, 22 मई को विशिष्ट उर्दू, 24 मई को समाज शास्त्र, 27 मई को इतिहास, भौतिकी, व्यवसाय अध्ययन के पर्चे होंगे।
उर्दू अदीब प्रमाण-पत्र परीक्षा के तहत 14 मई को नस्र एवं तारीख़ उर्दू, 16 मई को सामान्य अंग्रेजी, 18 को जनरल साइंस, समाजी उलूम व हिन्दी, 20 मई को नज़्म, इन्शा व क़वायद उर्दू तथा उर्दू माहिर प्रमाण-पत्र परीक्षा के अंतर्गत 14 मई को तारीख़ अदब उर्दू व समाजी उलूम, 16 मई को नस्र उर्दू व क़वायद उर्दू, 18 मई को नज़्म उर्दू व तर्जुमा निगारी, 20 मई को सामान्य अंग्रेजी तथा 22 मई को जनरल साइंस, इंशा व हिन्दी के प्रश्न-पत्र होंगे।
और भी

गेट 2024 परीक्षा में सम्मिलित हुए उम्मीदवारों के लिए आया अपडेट

  • 26 उम्मीदवारों को पूरे 1000 गेट स्कोर प्राप्त हुए
दिल्ली। भारतीय विज्ञान संस्थान बेंगलूरू ने अभियांत्रिकी स्नातक अभिक्षता परीक्षा 2024 के नतीजों की घोषणा हाल ही 16 मार्च को करने के बाद अब इस परीक्षा में अधिकतम अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों सूची भी जारी कर दी है। संस्थान द्वारा सोमवार, 18 मार्च को जारी टॉपर्स लिस्ट के अनुसार कुल 26 उम्मीदवारों को पूरे 1000 गेट स्कोर प्राप्त हुए हैं।
इन विषयों में सबसे अधिक टॉपर-
IISc द्वारा जारी गेट 2024 टॉपर्स लिस्ट के अनुसार ह्यूमैनिटीज एण्ड सोशल साइंसेस में सबसे अधिक 4 उम्मीदवारों को 1000 गेट स्कोर प्राप्त हुए हैं। इसी प्रकार इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में भी 3 उम्मीदवारों को 1000 गेट स्कोर मिले हैं। पूरे अंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों में कुछ निम्नलिखित हैं-
प्रतीक शेरके, एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग- 1000 गेट स्कोर (75.67 रॉ मार्क्स)
संजीव सी एचार, बॉयोमेडिकल इंजीनियरिंग- 1000 गेट स्कोर (54.33 रॉ मार्क्स)
आकंक्षा एस, बॉयोटेक्नोलॉजी- 1000 गेट स्कोर (83 रॉ मार्क्स)
आदर्श राय, केमिकल इंजीनियरिंग- 1000 गेट स्कोर (73.33 रॉ मार्क्स)
पीयूष कुमार, कंप्यूटर साइंस एण्ड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी- 1000 गेट स्कोर (90 रॉ मार्क्स)
स्कोर कार्ड 23 मार्च को-
दूसरी तरफ, IISc द्वारा 3, 4 और 10 व 11 फरवरी को आयोजित गेट 2024 परीक्षा में सम्मिलित हुए सभी उम्मीदवारों के स्कोर कार्ड 23 मार्च जारी किए जाएंगे। अपना स्कोर कार्ड डाउनलोड करने के लिए उम्मीदवार को परीक्षा पोर्टल, gate2024.iisc.ac.in पर विजिट करके अपनी डिटेल से लॉग-इन करना होगा। इसके बाद उम्मीदवार अपना GATE 2024 स्कोर कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।
और भी
Previous123456789...4041Next

Jhutha Sach News

news in hindi

news india

news live

news today

today breaking news

latest news

Aaj ki taaza khabar

Jhootha Sach
Jhootha Sach News
Breaking news
Jhutha Sach news raipur in Chhattisgarh